Skip to main content

A Summary of The Corner Shop

Please find below the summary of The corner Shop. Do let me know for change, improvement anything you think.

It is often said ‘The best ghost stories don’t have ghosts in them; rather, you see the result of its actions.’

For centuries readers have been attracted to the mysterious air surrounding ghosts and other supernatural beings. It is probably this sense of wonder and fear that makes ghost stories so addictive and hard to put down. An example of such a story is Cynthia Asquith’s The Corner Shop. The Corner Shop starts out as a happy story of a man, Peter Wood who discovers an antique shop filled with vintage trinkets run by two charming, young women. Upon browsing through its offerings, the man purchases a jade frog figurine at a throwaway price. Content with his purchase, Peter decides to make frequent visits to this lovely little shop. However, there is something sinister lurking behind the scenes.

On the second visit to the store, Peter is in for an eerie surprise. Gone are the two wonderful ladies, gone is the joyful vibe of the shop. Instead, he is welcomed by a blanket of gloom and an old man with a serious demeanor. The young man soon learns that his purchase is worth much more than the price he paid for it. Driven by a strong conscience and sense of fairness, Peter offers to give back the money to the owners of the shop. To his astonishment, he is told an incredible story by the two women. The story tells a poignant tale of past mistakes and the old man’s desire to make amends. The last few pages of The Corner Shop really puts the story into perspective and makes the reader feel like the pieces are finally falling into place. A story encompassing out worldly elements whilst combining real human emotions, The Corner Shop will definitely warm your heart.

Being a short story, there is not much scope for character development and so you are left wanting to know a little more about the characters. Details about their personalities or families are a bit unclear. Aptly named, The Corner Shop is free from gruesome descriptions and malevolence. However, the text is littered with references and descriptions of haunted elements. The weather plays a key role in the depiction of moods and a stark contrast can be inferred through its descriptions.

Cynthia Asquith succeeds in painting a ghostly picture with her words and manages to send chills down your spine. Read this story if you’re a fan of horror stories with underlying dramatic themes.

Comments

Weekly Popular

मेरी यादगार यात्रा पर निबंध | Essay on My Memorable Tour in Hindi

यात्रा का अपना एक सुखद अनुभव होता है। हर यात्रा अपने में कई यादें समेटे होती है पर कुछ बहोत यादगार होती हैं । गर्मी की छुट्टियों में अधिकतर लोग घूमने जाते हैं और इस मौसम में पर्वतों की यात्रा अत्यधिक सुखद होती है। हमारी पहली पर्वतीय यात्रा पिछले वर्ष गर्मी की छुट्टियों में हुई जब पिताजी के पुराने मित्र ने नैनीताल में अपने आवास पे एक समारोह रखा और पिताजी को आमंत्रित करने के साथ साथ ज़रूर आने का आग्रह भी किया। पिताजी ने इस आग्रह का सम्मान करते हुए समारोह में जाने के लिए और साथ साथ नैनीताल घूमने के लिए पांच दिन की योजना बनायी। हमने 20 मई को नैनीताल के लिए रेल पकड़ी और अगले दिन सुबह 10 बजे वहां पहुँच गए। स्टेशन पे पिताजी के मित्र हमें लेने आये हुए थे। हम उनके साथ उनके घर गए। उन्होंने पिताजी की योजना की सराहना करते हुए उन्हें आने के लिए धन्यवाद कहा और हमें नैनीताल घुमाने की जिम्मेदारी अपने ड्राइवर को सौंप दी। क्योंकि समारोह तीन दिन बाद था तो हम नैनीताल घूमने निकल गए। नैनीताल के रास्ते बहुत टेड़े मेढ़े थे और रास्ते के दोनों ओर घाटियों का मनमोहक दृश्य था। कहीं ये घाटियां अत्यंत सुन्दर थीं औ…

How I Spent My Summer Vacation Hindi Essay for Class 1, 2

गर्मी का मौसम भारत में मई और जून के महीने में आता है । हम इस मौसम में बहुत असहज महसूस  करते हैं।  क्योंकि गर्मी का मौसम  बहुत आसान मौसम नहीं है। इस गर्म से छुटकारा पाने के लिए मैने बहुत पहले से एक शांत जगह पर गर्मी की छुट्टी बिताने की योजना बनाई थी । हम अपने परिवार के साथ कश्मीर चले गये । गर्मी की छुट्टी के दूसरे ही दिन हमने अपना शहर छोड़ दिया । पहले हम एसी टिकट के साथ लंबे समय तक ट्रेन यात्रा का आनंद लिए ।यह कश्मीर की राजधानी तक पहुंचने के लिए बहुत अच्छी यात्रा थी।जब हम वहाँ पर उतरे तब वहाँ का मौसम अछा नही था । हमने देखा वहाँ का मौसम एक दम बदलने लगा ।वहाँ गर्मी का कोई संकेत नही था । जैसे वहाँ हम उतरे तो इन तस्वीरों को देख कर यह महसूस की वास्तव में कश्मीर एक जन्नत है। कश्मीर देखना मेरे बचपन का एक सपना था और जो आज सच हुआ। हम एक होटल ले लिए जो डल झील की नाव पर था । डल झील पर नौकाविहार बहुत अनंददायक था।अन्य अंक भी लिखा जा सकता है। नीचे देखें।बच्चों को गर्मियों की छुट्टियों में आराम मिलता है। अध्ययन का दबाव समाप्त हो जाता है और मन को एक अलग खुशी का अनुभव होता है ।निष्कर…

Question Answer of 'Daffodils' | English Literature

Question 1: Describe in your own words the poet's feelings when he sees the host of golden?Answer 1: The poet was thrilled to see a host of golden daffodils by the side of the lake under the trees moving their head in a joyful dance . They seemed to be dancing like a human being expressing their energy and joy. When the poet saw the flowers, his imagination traveled to another world to find a comparison. He was reminded of the stars twinkling in the milky way at night . The long line of the daffodils flowers bore comparison with the bright stars seen across the night sky Question 2: Why does the poet say I gazed and gazed but a little thought / what wealth that show to me had brought? Answer 2: the poet was alone full stop he was moving about aimlessly over the high valleys and hills watching the beautiful scenes of nature full stop suddenly he saw a great number of golden coloured flowers by the side of the lake under the trees moving their heads in joyful dance . Waves in the l…

Garmiyon Ki Chhuttiyon Ka Maja Essay For class 3 In Hindi | गर्मियों की छुट्टियों का मजा पर निबंध

१. गर्मियों की छुट्टियाँ मुझे बहुतपसंद है|२. ये हमारी वार्षिक परीक्षा के बाद आती है|३. हम इसमे नानी के घर जाते है| नानी हमे कहानी सुनाती है|४. गर्मियों की छुट्टियों मे आइस क्रीम खाते है|५. इसमे हम अपने दोस्तो के साथ केरम , विडिया गेम,साँप सीढ़ी और अन्य कई सारे खेल खेलते है|६. हम परिवार के साथ हर साल हील स्टेशन जाते है| जहा हम नयी नयी जगह घूमते है , शॉपिंग करते है| फॅमिली फोटो लेते है|७. गर्मी की छुट्टियों मे हम हॉबी क्लास भी ज्वाइन करते है| जेसे :- तैराकी(स्वीमिंग), कला शिक्षा (आर्ट क्लास), इत्यादि| ८. गर्मी की छुट्टियों मैं देर तक सोने का मज़ा भी बहुत अलग होता है| रोज़ प्रातः जल्दी उठकर स्कूल नही जाना होता है|९.माँ भी बहुत सारे पकवान बना कर खिलती है| १०. शाम को हम दादा-दादी के साथ टहलने बगीचे मे जाते है और झूलो का आनंद लेते है| ११. हम इस बार गर्मी की छुट्टियो मैं घर के बगीचे मैं पौधे भी लगाएगे|१२. छुट्टियों मैं बिद्द्यालय से मिला होम वर्क हम सभी दोस्त साथ मिलकर करते है|१३. इस बार की छुट्टियो मैं मेरे घर पर चिड़िया ने बच्चे दिए थे, हम उनको रोज़ दाना डालते थे|१४. मेरी बहन का जन्मदिन भ…

Featured Post

Ratio Mathematics ICSE Tutorial Class 7

There are four videos of Ratio class 7. Few sums have also been explained with very easy steps. If there are any doubts then comment below. We will try to clear those doubts.

1. Understanding Ratio:


2. Comparing Ratio Basic and Shortcut method:

3. Compound Ratio , continued Ratio Dividing a number in a given Ratio:

4. Solution of few problem of ratio:
These sums of Ratio class 7 have been discussed in this video:
1. write in simplest form
72:108, 1/6:1/2,
15cm to 4m.
2. Population of a village is 32400. The ratio of literate
to illiterate person in the village is 11:7. Find the actual number of literate person and illiterate person. .
3. If a, b and c are three numbers such that a:b=4:9 and b:c=27:35. Find a:c
4. In what ratio should we increase 650 to obtain 1000.