Skip to main content

Posts

Showing posts from March, 2017

The Positive Parenting Essay in Hindi For 2nd Grade | 2 ग्रेड के लिए हिंदी में सकारात्मक अभिभावक निबंध

सकारात्मक पैरेंटिंग बच्चों के साथ अच्छे संबंधों को बढ़ाने और विकसित करने का एक व्यावहारिक तरीका है। हमे हमेशा स्वस्थ, सुखी और उत्पादक जीवन जीने के लिए अपने बच्चों को आगे बढ़ाने के सर्वोत्तम तरीकों को ढूंढने का प्रयास करते रहना चाहिए हैं। बच्चे हमारे जीवन मे खुशियाँ भरते हैं। उनसे बहुत प्यार से व्योाहर करना। वास्तव में, एक अच्छा पैरेंटिंग का अर्थ है की अपने बच्चों को एक सुखद, सुरक्षित और सुखमय घर जीवन प्रदान करना। अपने बच्चे को जीवन के नियमों को जानने में मदद करना। यह भी सीखनन कि अपने निजी वस्तुओं को कैसे दूसरों से साझा करें। दूसरों का सम्मान करें आदि । और अच्छे आत्मसम्मान को विकसित करने के लिए। उनके विचारधारा को ऊपर उठाने के लिए, उनमें अच्छा गुणवत्ता डालने के लिए, उनको जीवन के नियम बताने के लिए आदि , आपको अपने बच्चों के साथ अधिक समय बिताना चाहिए । बच्चों की आवश्यकताओं पर अधिक ध्यान देना चाहिए। हमे उन्हें अच्छा नागरिक बनने के सारे सीख डालनी चाहिए 163 Words short Essay by : Kareem Ghawi Abbas

5.Heating Effect of Electric Current Physics Class 10

Current flowing through a conductor produces heat. This heat depends on quantity of current flowing through the conductor, time and resistance of the conductor. We can write:
H α I²
H α R
H α t
By combining these three relation we get:
H α I²Rt
H = K. I²Rt where K is a constant.
K= (H/(I²Rt))
K= H
for I=1 Amp., R= 1 ohm and t= 1 sec.
K becomes equal to heat generated at this condition. It is found heat generated is 0.24 calorie.
∴ H=0.24 I²Rt This is also known as Jouls Law of Heating. Also remember. 1 Calorie = 4.2 Joul The above video contains explanation of heating effect of current through a conductor. The equation derivation is also shown. Why 0.24 added while breaking proportionality is clearly explained.

Essay If there would be No Animal on the Earth in Hindi | क्या होता यदि पृथ्वी पर जानवर नहीं होते

पशुओं का मानव जीवन में हमेशा विशेष प्रभाव रहा है। एक पशु मनुष्य की हर ज़रूरत को पूरा करता है, उसका दोस्त बनता है, उसका भोजन बनता है। पशु विभिन्न प्रकार के वस्त्र बनाने के भी प्रयोग में आता है। क्या आप इस संसार की कल्पना जानवरों के बिना कर सकते हैं? नहीं कर सकते। ऐसा मेरा अनुभव है । पशु-पक्षियों का भोजन श्रंखला को नियमित रखने मे सबसे महत्वपूर्ण योगदान है। आजकल तकनीकी विकास बढ़ रहा है, तरह - तरह की मशीनें बनाई जा रही हैं लेकिन जब यह सब नहीं था तब पशु ही ढुलाई का कार्य करते थे , और आज भी बहुत दुर्गम स्थानों पर ढुलाई का कम करतें हैं । किसान बैलों से खेत जोतते थे । आज भी जोतते हैं । अगर मित्रता की बात करें तो एक जानवर ही मनुष्य का सबसे वफादार मित्र होता है । वह इंसानो की तरह आपको कभी हानि नहीं पहुंचा सकते हैं। प्रकृति में हर एक प्राणी का महत्व है। यह संसार जानवरों के बिना अधूरा है। अगर यह न हो तो हमारा जीवन कठिन हो जाएगा । अगर दुधारू पशु न हो तो हमें पौष्टिक भोजन नहीं मिलता । रेगिस्तान इलाकों में मनुष्य का रहना दूभर हो जाएगा, क्योंकि ऊँट ही रेगिस्तान में आसानी से चल सक…