Skip to main content

Posts

Showing posts from February, 2015

Concept Of Decimal Number for Grade 4 | Mathematics

Concept Of Decimal Number for Grade 4 | Part 1 Concept Of Decimal Number for Grade 4 | Part 2 Decimal number : It is the another form of writing fractional numbers. For example 0.5 is a decimal number. Its fractional equivalent is 1/2. We can also say that when we comes below a number less than one (whole art) , we take the help of decimal numbers. Decimal number symbol is (.).Watch these videos to grasp idea about decimal numbers.
Use of Decimal Numbers: In writing Rupee and paise e.g.Re. 0.65 In writing meter and centimeter as 2.57 m. In writing Kg and g as 4.852 kg. Concept Of Decimal Number for Grade 4 | Part 3

How to Write Statement of Words Problem | For Class 4

Writing Statenart of words problem in Mathematics is not easy for Students of lower class. It is because he doesn't understand the English language of the word problem completely. It is natural as he is not achieved maturity. Therefore they write whatever written in the words problem. But today I will teach a simple trick with which they will be able to write very accurate statement of words problem easily. The children have to read the sum once and have to underline the numbers given in the sum. After that they have to notice the unit of the number . If it is kilogram (kg) , then start like this: Quantity (Qty.) of wheat distributed among the family = 72kg If the unit of the number is Litre (L) then write like this: Volume of water in the pot = 72L For more idea watch the videos and put your comments . How to Write Statement of Words Problem of Grade 4 | Introduction & Example1 | Part 1
How to Write Statement of Words Problem of Grade 4 | Example 2 | Part 2

H…

मोर पर निबंध | Essay on Peacock for Class 6

हमारा राष्ट्रीय पक्षी मोर है। मोर दिखने में बहुत सुन्दर होता है। उसके शरीर का हर एक अंग उसकी सुंदरता पर चार चाँद लगाता है। उसका शरीर नीले रंग का होता है। और पंखों में ना जाने कितने रंग होते हैं। जैसे हरा नीला गुलाबी बैगनी।  उसके पंख बड़े -बड़े होते हैं। और जब मोर अपना पंख खोलता है तो वह और भी सुन्दर लगता है। उसकी आँखे लम्बी और खूबसूरत होती हैं। यह कार्तिक भगवान का वाहन भी है।  यह कृष्ण भगवान का एक रूप भी है। जब मोर अपने पंख खोलता है तो वह एक अदभुत नजारा होता है।  हमारे देश में मोर रांची बिहार मथुरा वाराणसी और राजस्थान के इलाकों में ज्यादा संख्या में पाये जाते हैं। इनका शरीर बड़ा और भारी होता है।  जिसके कारण यह ज्यादा ऊंचाई तक उड़ नहीं पाते हैं।  यह दान बीज आदि खातें हैं।  कहा जाता है की यह सांप भी खाता है। मगर इनपे सांप के विष का कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। यह बहुत शान से राजा की तरह चलता है। इनकी खुबिंया तो बहुत हैं जिनमे से कुछ नीचे लिखा हुआ है। यह बारिश होने का अंदाजा लगा लेता है।  उसके तन का एक बहुत महत्वपूर्ण अंग जो की पंख है। हिन्दू संस्कृति में माना जाता है की इसके पंख घर में रखने…